बुधवार, 23 अक्तूबर 2019

Off-Page SEO कैसे करे 2020 | Google मे Website की Ranking कैसे बढाये

off-page SEO kaise kare 2020 - आज हम जानेंगे Off-Page SEO Kaise Kare | साथ ही Google मे हम अपनी Website की Ranking कैसे बढ़ा सकते है।  Off-Page SEO के अंदर हमे क्या क्या करना होगा जिससे हमारी website Google और बाकि Search Engines मे अच्छे से करे।  Off-Page SEO On-Page SEO से अलग  होता पर काम एक ही आपकी website को rank करवाना और Traffic बढाना। 


off-page SEO kaise kare, 2020, off-page SEO kaise kare 2020, Off-page SEO Techniques 2020, Techniques, Off-page SEO, Ranking, Backlink Link building 2020, Do-follow Backlinks 2020, How to, Kaise, kya,

Off-page SEO Kaise kare 2020  - सबसे पहले जान लो की Off-Page SEO आखिर होता क्या है। Off-Page SEO उन Techniques को कहा ज्याता है जिन्हे हम अपनी खुद की की Website की ranking को बढ़ने हेतु दूसरों की website पर करते है। Off-Page SEO मे मुख्य तौर Link Building, Article Submission, Directory Submission जैसी बाते आती है।  जो दूसरों की website से हमारी website के लिए एक तरह का Link Juce बनती है।  जो Search Engines के Crawlers उन website से हमारी website तक पोहचने का काम करती है साथ ही search Engines के Crawlers को हमारी Website के प्रति Positive Signals देती है।    


इसे भी पढे - SEO friendly blog post kaise likhe

इसे भी पढे - High Quality Backlinks kaise banaye

येतो हुआ Off-Page SEO  कैसे काम करता है। अब हम जानेंगे की इसके अंदर आने वाली Techniques क्या है और कैसे काम करती है।


१. Link Building - Backlinks

Off-Page SEO मे Link Building का सीधा सीधा मतलब लिकल के आता है वो है दूसरे Websites के साथ आप की website सो जोड़ना या उनके उनकी website पर अपने website के Links को साझा / Promote करना जिसे हम Backlinks बनाना भी कहते है।  यहाँ पर एक बात ध्यान देने वाली है Link Building मे दो तरह के Backlinks link बनते है  Do-Follow और No-Follow दोनों ही Backlinks दिखने  में तो एक जैसी ही नजर आती है और काम भी एक जैसा ही करती है पर थोड़े अगल तरीकेसे। आइये थोडा जानते है Link Building के बारे मे।
  • Do-Follow
Off-page SEO मे Do-Follow Backlinks अन्य Website पर आपके द्वारा बनाई गई Links होती है।  जो search Engine के Crawlers को आप पे website तक पोहचाने और आपकी website की Ranking बढाने हेतु search engines को Positive Signals देने का काम करती है।  

Do-Follow Links Search engines के लिए और Humans दोनों के लिए Visible होती है।  इन Links पर Click करके यूजर आपकी website तक पोहच सकते है।  साथ ही Search इंजन के Crawlers भी इन links Follow करके आप की website पर आके आप की website के Links को crawl / Index कर सकते है। 

इसे भी पढे - Fix Ad Serving Limit placed on your Adsense Account


इसे भी पढे - Social Bookmarking Kya hoti hai

Search engine मे Do-follow Backlinks आपकी website की एक positive छवि बनाते है जीसके कारण आपकी website की ranking बढने में मदत मिलती है।  Do-Follow Backlinks को बनाने के लये <a href="Your Link"> Anchor Text (Keyword or Title) </a> इस HTML कोड का इस्तेमाल होता है।

याद रखिये अपनी Website के लिए Do-Follow Backlinks हमेशा अछि Reputation वाली Websites पर ही बनाये। क्यों की कीसी भी ऐसी website जो Search engines द्वारा Blacklisted है या जिन Websites Spam ज्यादा मात्रा में है, ऐसी पर Backlinks बनाने का मतलब है अपनी वेबसाइट Ranking को घटना।  
  • No-Follow 
No-Follow Backlinks उन Links को कहा ज्याता है जिन्हे Search engines के Crawler  पालन  (Follow) नही करते।  साथ ही No-Follow Backlinks Search Engine मे आपकी Website की Ranking को नहीं बढाते।  

No-Follow Backlinks भी Do-Follow बनाने के लिए इस्तेमाल मे लिया ज्याने वाला HTML कोड का इस्तेमाल करके ही बनाये ज्याते है बस उसमे एक अधिक (rel="No-Follow ") कोड को जोड दिया ज्याता है जिसके कारण वो links Crawlers के लिए उन Links को Crawl और index  करना प्रतिबधित हो ज्याता  है।

सीधे सीधे कहे तो No-Follow Backlinks Search engines के लिए Visible नहीं होती। पर humans के लिए visible होती है जिसके कारण कोई भी visitor उन links पर Click करके आपके website तक पोहच सकता है। 

No-links द्वारा भी website traffic बढाया ज्या सकता है ब शर्ते आप ये links किसी बड़ी websites पर बनाये जिन पर बहोत अधिक मात्रा मे हो। 

no-Follow Backlinks बनाने के लिए <a href="Your Link" rel="nofollow"> anchor text </a> इस HTML कोड का इस्तेमाल करे। 

Do-Follow और No-Backlinks कई तरीकों से बनाये ज्याते है आइये उन तरीकों के बारे में जानते जानते है। साथ ही जानते है की और कोण कोनसे तरीके आजमाए ज्याते है No-Follow SEO के अंदर website को rank करवाने के लिए।   

How To Build Do-Follow And No-Follow Backlinks.

  • Guest Posting
Guest Posting यानी अपने Articles Backlinks पाने के हेतु से किसी और के Website पर प्रकाशित (Publish) करवाना। Guest Posting तीन तरह से होते है एक जो आपसे आपकी Post उनकी website परकरवाने के लिए आपसे पैसे लेते है।  दूसरे आपसे बिना पैसे लिए ही आप की Post को उनकी Website पर publish करते है। तीसरी Guest Posting में आप को पोस्ट लिखने के लिए पैसे दिए ज्याते है

अलग अलग Websites के Guest Post को स्वीकार (accept) और प्रकाशित करने के अगल नियम होते है। Guest Posting मे Post के निचले हिस्से मे जहाँ Author का नाम होता है वहाँ आपको एक backlink दी ज्याति है। आपको Post के द्वारा  Backlink पाने के लिए पोस्ट के साथ साथ अपनी लिंक भी संबधित website के एडमिन को भेजनी होती है।  किसी किसी website पर आप को guest Posting के लिए एक separate Page देखने को मिलता है जहाँ से आप अपना आर्टिकल और जानकारी उन्हें भेज सकते है।  पर किसी किसी website में आपको उस Website के एडमिन को Contact और Article भेजने के लिए उनके द्वारा दिए गए E-mail जो आप को उनके Contact Page पर आसानी से मिल जायेगा उसका उपयोग करना पड़ता है।     
  • PBN
Off-Page SEO मे PBN का मतलब होता है Private Blogging Network जिस में हर एक ब्लॉग अपने सम्बंधित दूसरे Blog Connected होता है। जिससे एक गोल चैन बनती है, जिसे आम Bloggers Backlinks बनाने के लिए इस्तेमाल करते है। और professional Content marketers कम  से कम समय में search Engine मे Rank karne के लिए smart  रास्ते से इस्तेमाल मे लाते। 

ध्यान दीजिये गा मानलीजिए आप की एक website है जिसके लिए आप Backlinking कर रहे है अब यहाँ प्रॉब्लम ये है की जिन वेबसाइट पर आप Backlink Create कर रहे है वप spamy हुई या फिर Search engines द्वारा Blacklisted हुई तो उसका सीधा असर आपके website की Ranking पर पडेगा ये भी हो सकता है आप की भी वेबसाइट Blacklisted हो जाये। 

हमारी Website अछि तरह से कम समय में Rank भी हो और हमारी website को Blacklist भी न होना पड़े इसीलिए  PBN Blog बनाये ज्याते है। 

इसे भी पढ़े - Onpage SEO kaise kare



विस्तार में जानेजो लोग बहोत ही कम समय मे अछि ranking पाना चाहते है जिसके किये हजारो Backlinks खुद तो बना नहीं पाते इसीलिए दूसरो से खरीदते है। अब खरीदी हुए वो हजारो Backlinks अगर वो अपने Website पर Directly लेंगे तो उनकी वेबसाइट Search इंजन में Blacklist होने के Chances बहोत ही ज्यादा होते है।  

इसी लिए वो जितनी भी Backlinks क्यों न बनाये वो सब अपने PBN (Private Blogging Network) Blogs पर ही बनाते है और उन्हें अपनी websites Connect कर देते है। ऐसा करने से होता उन्हें तो Backlinks मिल तो ज्याति है पर direct नहीं उनके बनाये गए PBN Blogs के जरिये। जिससे उनका Website कम समय में बहोत अच्छा rank कर ज्याता है Search  engines मे और अगर कभी Blacklist होना भी पड़े तो उनके PBN Blogs Blacklist होंगे उनकी Orignal Website नही  क्यों की सारे backlinks और जो भी Spam हो रहा था वो उनके PBN Blogs पर उनकी मुख्य Website पर नहीं।  

  इसे भी पढ़े - What to do Before Starting a blog
  • Commenting
किसी अन्य Websites के Articles पर Comment करके Links को Generate करके लिए गए Backlinks को Comment Backlinks कहते है। 

अगर आप को आसानी से बिना ज्यादा मेहनत किये backlinks बनाना चाहते है तो आप इस Option का इस्तमाल करते है। पर मै बता दू ज्यादा तर ब्लॉग और Websites जिन पर आप comment करके link बनाते है वो No-follow होती है।

यदि आप No-Follow Backlinks के जरिये अछि Traffic पाना चाहते है तो Comment Backlinks के लिए ऐसे Websites का चयन करे जिन पर ट्रैफिक अधिक मात्रा मे आता हो। Search Engines में अछि छवि हो। 
आप comments के जरिये Do-Follow Backlinks भी बना सकते है पर आपको पहले Do-Follow Websites / Blogs को ढूंढना होगा और उसके बाद उनके article पर Comment करके आप Backlinks बना सकते है।  Do-Follow Blogs ढूडने के लिए आप इस Drop my Link  Tool का इस्तेमाल कर सकते है।

पर एक चीज जिसे आप को ख़ास तौर पर ध्यान में रखना होगा जो है की आप किसी भी ऐसी Website के Articles पर Comment ना करे जिस  पर पहलेसे ही बहोत ज्यादा मात्रा में comment Spam हो रखा हो, या फिर Blacklisted हो ऐसी websites पर Comment करना आपकी Website की Ranking के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।  
  • Article Submission
Article Submission Off -Page SEO के तहत अपने Website Popularity बढाने Backlinks बनाने के लिए इस्तेमाल मे लाये जाने वाली तकनीक है। Article Submission मे हम कुछ Articles Article Submission Sites पर डालते है।  HubPages, Tumbler, Bloglovin, Medium, Evernote, WattPad, जैसी Websites को उपयोग करते है। 

हमारी site नई होने के कारण हमारी Site को कोई नहीं पहचानता इसी लिए हम Article Submission Sites उपयोग लेते है। अगर हम इन Sites पर अपना कोई article डालते है तोह उसे ज्यादा से ज्यादा लोग पढ़ते है और उस Article मे हमारे website की links होने के कारण अगर उन्हें हमारे articles पसंद आते है तो वो हमारे website पर आ के हमारे द्वारा लिखित अन्य Articles भी पढ़ते है। साथ ही हमें  इन Article Submission Sites  से हमारे Website के लिए Backlinks  है।    


Article Submission करने का मुख्य उद्देश्य अपनी वेबसाइट के लिए Backlinks, Visitors, Popularity पाना। 


  • Resource Backlinks
अब आप लोग सोच रहे होंगे की ये Resource Backlinks आखिर है क्या चीज। तो आप को बता दूँ की आप के वेबसाइट के Articles की Links अगर कोई अन्य किसी website अपने article मे डालता है तो उसे Resource Backlinks कहते है।  क्यों की वो aapke Article को Resource के तौर पर इस्तेमाल करता है।

Resource Backlinks Do-Follow और No-Follow तरह के होते है और अगर हम इन्हे अछि websites से लिए जाये तो ये बहोत ज्यादा Powerful होती है। Resource Backlinks पाने के लिए आम तौर पर अन्य Websites के Resource Pages इस्तेमाल होता है। 
इसे भी पढ़े - Big Updates in Blogger

२. Directory Submission

किसी भी नई Website को अपनी Website की Links को  Web Link  Directory मे अपनी Website कि Category अनुसार Submit करणा पडता है। 

Directory Submission करने के लिए UsalistingDirectory, usgeo इन जैसी Directories मे अपनी Links को Submit करके आप अपनी Website के लिये Backlinks तोह बनातेही है साथ हि आप Internet कि दुनिया को अपने website कि पेहचान भी करवाते है।

Directory Submission Websites से Backlinks के साथ साथ आपके Website पर कुछ मात्रा मे Traffic भी आता है। 


३. Social Bookmarking

Social Bookmarking Websites जैसे Mix जैसी site पर अपने Website के articles की Links को Bookmark करके आप अपने Website और Articles लिए Traffic बढाते है।  साथ ही आप अपनी वेबसाइट की Popularity भी बढ़ाते है। 

Internet पर बहोत सारी Social Bookmarking Websites मौजूद है जहाँ आप अपने Articles की links को Bookmark कर सकते है।   Social Bookmarking एक आसान रास्ता है website पर ट्रैफिक बढाने का।  क्यों की ऐसी साइट्स पर Organic Web traffic बहोत ज्यादा होता है।

४. Social Sharing

Social Sharing से तो पता है आप की कितनी अधिक मात्रा में हम अपनी Website पर ट्रैफिक लेके आ सकते है। पर मै  आपको बोलू की आप सोशल Sharing से website पर न सिर्फ ट्रैफिक ले  सकते है बल्कि Search Engine मे अपनी website की Ranking भी बढ़ा सकते है। आप सोच रहे होंगे वो कैसे। 

तो जान लो की आपके Website पर आने वाले Visitors अगर आपके Articles के links को Social share करते है तो Search engine इसे Positive Signal के तौर पर गृहीत धरता है, और जिससे होता ये है की Search engine  आपके articles को अपने SERP यानि Search Engine Result Page पर अछि Ranking देता है।   जितने ज्यादा Visitors आपके Articles के links share करते है उतना ही अछि Ranking आपका article Search Engine Result Page पर पाता है।  

इसे भी पढ़े - Private Blog network Kyaa Hota Hai
इसे भी पढ़े - Resource Pages Se Backlinks Kaise le


मुझे उम्मीद है की हमारा यह Article पसंद आया होगा अगर हम कुछ बाते इस article में डालना भूल गए हो तो आप हमें Comment करके बताये हम  पूरी कोशिश करेंगे आपको पूरी जानकारी देने की।  और हाँ इस आर्टिकल के बारे में अपनी राय देना न भूले।  Thank you. 

4 टिप्‍पणियां: